Meaning of Curse in Hindi - हिंदी में मतलब

profile
Ayush Rastogi
Mar 08, 2020   •  0 views
  • निकाल देना

  • बहिष्कृत करना

  • आफ़त

  • अभिशाप

  • शाप देना

  • विनाश

  • अपशब्द

  • कोसना

  • ऋतुस्ट्राव

  • शाप

  • श्राप

Synonyms of "Curse"

Antonyms of "Curse"

"Curse" शब्द का वाक्य में प्रयोग

  • O People given the Book! Believe in what We have sent down confirming the Book which you possess, before We transform some faces so turning them towards their backs, or curse them like We had cursed the people of Sabth ; and the Allah’s command is always carried out!
    पस उनमें से चन्द लोगों के सिवा और लोग ईमान ही न लाएंगे ऐ अहले किताब जो हमने नाज़िल की है और उस की भी तस्दीक़ करती है जो तुम्हारे पास है उस पर ईमान लाओ मगर क़ब्ल इसके कि हम कुछ लोगों के चेहरे बिगाड़कर उनके पुश्त की तरफ़ फेर दें या जिस तरह हमने असहाबे सबत पर फिटकार बरसायी वैसी ही फिटकार उनपर भी करें

  • Allah did curse him, but he said:" I will take of Thy servants a portion Marked off ;
    जिसपर ख़ुदा ने लानत की है और जिसने कहा था कि मैं तेरे बन्दों में से कुछ ख़ास लोगों को ज़रूर ले लूंगा

  • Should anyone kill a believer intentionally, his requital shall be hell, to remain in it ; Allah shall be wrathful at him and curse him and He shall prepare for him a great punishment.
    और जो शख्स किसी मोमिन को जानबूझ के मार डाले उसकी सज़ा दोज़क है और वह उसमें हमेशा रहेगा उसपर ख़ुदा ने ग़ज़ब ढाया है और उसपर लानत की है और उसके लिए बड़ा सख्त अज़ाब तैयार कर रखा है

  • and the fifth time, that God ' s curse may be upon him if he is telling a lie.
    और पाँचवी बार यह गवाही दे कि यदि वह झूठा हो तो उसपर अल्लाह की फिटकार हो

  • And when there came to them a Book from Allah, confirming that which is with them—and earlier they would pray for victory over the pagans—so when there came to them what they recognized, they denied it. So may the curse of Allah be on the faithless!
    और जब उनके पास एक किताब अल्लाह की ओर से आई है जो उसकी पुष्टि करती है जो उनके पास मौजूद है - और इससे पहले तो वे न माननेवाले लोगों पर विजय पाने के इच्छुक रहे है - फिर जब वह चीज़ उनके पास आ गई जिसे वे पहचान भी गए हैं, तो उसका इनकार कर बैठे ; तो अल्लाह की फिटकार इनकार करने वालों पर!

  • O you who have been granted the Book! Do believe in what We have revealed, which confirms the revelation which you already possess. Do this before We alter countenances, turning them backwards, or lay a curse upon them as We cursed the Sabbath - men. Bear in mind that Allah ' s command is done.
    पस उनमें से चन्द लोगों के सिवा और लोग ईमान ही न लाएंगे ऐ अहले किताब जो हमने नाज़िल की है और उस की भी तस्दीक़ करती है जो तुम्हारे पास है उस पर ईमान लाओ मगर क़ब्ल इसके कि हम कुछ लोगों के चेहरे बिगाड़कर उनके पुश्त की तरफ़ फेर दें या जिस तरह हमने असहाबे सबत पर फिटकार बरसायी वैसी ही फिटकार उनपर भी करें

  • The Day when their excuses will not profit the wrongdoers, and the curse will be upon them, and they will have the Home of Misery.
    जिस दिन ज़ालिमों को उनका उज्र कुछ भी लाभ न पहुँचाएगा, बल्कि उनके लिए तो लानत है और उनके लिए बुरा घर है

  • O ye People of the Book! believe in what We have revealed, confirming what was with you, before We change the face and fame of some beyond all recognition, and turn them hindwards, or curse them as We cursed the Sabbath - breakers, for the decision of Allah Must be carried out.
    ऐ लोगों! जिन्हें किताब दी गई, उस चीज को मानो जो हमने उतारी है, जो उसकी पुष्टि में है, जो स्वयं तुम्हारे पास है, इससे पहले कि हम चेहरों की रूपरेखा को मिटाकर रख दें और उन्हें उनके पीछ की ओर फेर दें या उनपर लानत करें, जिस प्रकार हमने सब्तवालों पर लानत की थी । और अल्लाह का आदेश तो लागू होकर ही रहता है

  • Abraham said," You have taken up the worship of idols, instead of God, to promote friendship between yourselves in the present life. But on the Day of Judgement, you will disown and curse one another. Your abode will be the Fire and you will have no helpers."
    और उसने कहा," अल्लाह से हटकर तुमने कुछ मूर्तियों को केवल सांसारिक जीवन में अपने पारस्परिक प्रेम के कारण पकड़ रखा है । फिर क़ियामत के दिन तुममें से एक - दूसरे का इनकार करेगा और तुममें से एक - दूसरे पर लानत करेगा । तुम्हारा ठौर - ठिकाना आग है और तुम्हारा कोई सहायक न होगा ।"

  • They were pursued by a curse in this world as they will be on the Day of Resurrection. Indeed, the ' Ad denied their Lord. So away with the ' Ad, the people of Hud!
    इस संसार में भी लानत ने उनका पीछा किया और क़ियामत के दिन भी," सुन लो! निस्संदेह आद ने अपने रब के साथ कुफ़्र किया । सुनो! विनष्ट हो आद, हूद की क़ौम ।"

0



  0